Project Description

सत्य की तलाश – Bapu ji

जबतक लेषमात्र भी संसार सुखरूप, सत्यरूप और सुन्दर मालूम होता है, तबतक समझना चाहिये
कि अभी इस अभागे मन में सत्यकी तलास नहीं हुई।